आधार कार्ड के 10 बड़े फायदे


आधार कार्ड भारत सरकार द्वारा भारत के नागरिकों को जारी किया जाने वाला पहचान पत्र है। इसमें 12 अंकों की एक विशिष्ट संख्या छपी होती है जिसे भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (भा.वि.प.प्रा.) द्वारा जारी होता है। यह संख्या, भारत में कहीं भी, व्यक्ति की पहचान और पते का प्रमाण होता है। भारतीय डाक द्वारा प्राप्त और यू.आई.डी.ए.आई. की वेबसाइट से डाउनलोड किया गया ई-आधार दोनों ही समान रूप से मान्य हैं।

जानिए आधार कार्ड होने के 10 बड़े फायदों के बारे में Aadhar Card

10) आधार कार्ड से मिलेगा 10 दिनों में पासपोर्ट

पासपोर्ट के लिए ऑनलाइन आवेदन करते समय आवेदनकर्ता को पता और पहचान के प्रमाण के तौर पर सिर्फ एक आधार नंबर ही देना होगा।आवेदनकर्ता को तिन दिनों में अंदर अपोएमेंट (Apoement) मिल जाएगा और अन्य सात दिनों के अंदर पासपोर्ट की प्रोसेसिंग होकर आपके घर पहुंच जाएगा| पुलिस सत्यापन बाद की तारीख में किया जाएगा।

9) आधार कार्ड से खुल जाएगा बैंक अकाउंट

अब आपको अपना किसी भी बैंक में नया खाता खुलवाने के लिए तरह-तरह के एड्रेस प्रूफ ले जाने की जरूरत नहीं है| जरूरत है तो एक आधार कार्ड की या आधार कार्ड नंबर की अब आप बैंक में आधार कार्ड का नंबर दीजिए और आपका बैंक अकाउंट खुल जाएगा।

Also Read This: आधार कार्ड को बैंक से कैसे जोड़े

8) डिजिटल लाइफ सर्टिफिकेट के लिए आधार जरूरी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पेंशनभोगियों के लिए आधार पर केंद्रित डिजिटल लाइफ सर्टिफिकेट लॉन्च किया। इस फेसले से एक करोड़ से भी ज्यदा पेंशनभोगि लाभान्वित हो सकते है| पेंशन लाभ के लिए अब पेंशनभोगियों का खुद से मौजूद होना जरूरी नहीं है। पेंशनभोगी का विवरण आधार का इस्तेमाल करके हासिल किया जाएगा।

7) मासिक पेंशन

पेंशनभोगियों को मासिक पेंशन प्राप्त करने के लिए भी अपने-अपने विभागों में अपना आधार नंबर रजिस्टर कराना होगा। इससे उन्हें आसानी से मासिक पेंशन मिल सकेगी।

6) आधार नंबर के जरिए निवेश

आधार सिर्फ पहचान का ही प्रमाण नहीं रहा है बल्कि स्टॉक मार्केट में निवेश के लिए इसे पते के प्रमाण के तौर पर भी इस्तेमाल किया जा सकता है| आधार नंबर के जरिए निवेशक केवाईसी न होने पर भी सीधे ऑनलाइन म्युचुअल फंड में निवेश कर पाएंगे।

5) बिना आधार कार्ड के नहीं मिलेगा प्रविडेंट फंड

पीएफ का पैसा उन खाताधारकों को ही आवंटित किया जाएगा जिन्होंने कर्मचारी संचय निधि संगठन में अपना आधार नंबर रजिस्टर करवा रखा है। पीएफ खाते के ऑनलाइन निपटान के लिए खाते का सत्यापन आधार डेटाबेस के जरिए किया जाएगा। ऐसे में पीएफ खाते को आधार नंबर के साथ जोडऩा जरूरी है।

4) डिजिटल लॉकर के लिए आधार जरूरी

अब आपको अपने जरूरी दस्तावेज़ साथ लेकर घुमने की जरूरत नहीं है| अपने जरूरी दस्तावेज के लिए सरकार ने डिजीटल लॉकर लांच कर दिया है, जहां आप जन्म प्रमाण पत्र, पासपोर्ट, शैक्षणिक प्रमाण जैसे अहम दस्तावेजों को ऑनलाइन स्टोर कर सकते हैं। यह सुविधा पाने के लिए बस आपके पास आधार कार्ड होना चाहिए। इस सुविधा की खास बात ये है कि एक बार लॉकर में अपने दस्तावेज अपलोड करने के बाद आपको कहीं भी अपने सर्टिफिकेट की मूल कॉपी देने की जरूरत नहीं होगा।

3) एलपीजी सब्सिडी ट्रांसफर

गैस सब्सिडी हासिल करने के लिए भी अगर आपका बैंक अकाउंट आधार कार्ड से लिंक्‍ड है तो आपको कागजी कार्यवाही से मुक्ति मिल जाती है। 12 अंकों वाले व्यक्तिगत आईडी नंबर का इस्तेमाल बैंक खाते में एलपीजी सब्सिडी सीधे तौर पर ट्रांसफर करवाने के लिए भी किया जा सकता है।

2) वोटर कार्ड से जोड़ा जाएगा आधार नंबर

राष्ट्रीय निर्वाचन नामावली परिशोधन एवं प्रमाणीकरण कार्यक्रम के तहत आधार कार्ड, मोबाईल नंबर एवं ई-मेल भी मतदाता सूची डाटाबेस में शामिल किया जाएगा ताकि निर्वाचन संबंधित जानकारियां मतदाताओं तक आसानी से पहुचाई जा सके| इससे फर्जी वोटिंग पर रोक लगेगी एवं मतदान की प्रक्रिया पारदर्शी बनेगी।

Also Read This: पहचान पत्र को आधार कार्ड से ऑनलाइन कैसे लिंक करे

1) जनधन योजना

गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल प्रधानमंत्री जनधन योजना (पीएमजेडीवाई) को मोदी सरकार ने 28 अगस्त 2014 को लॉन्च किया था| सरकार का उदेश्य इस योजना के जरिए देशभर में सभी परिवार को बैंकिंग सुविधा मुहैया कराना और हर परिवार का बैंक अकाउंट खोलना है। इस योजना का लाभ उठाने के लिए आधार कार्ड ही पर्याप्त है।

Also Read This: ऑनलाइन आधार कार्ड स्टेटस कैसे चेक करें

हम उम्मीद करते है, कि आप सभी ने हमारे लिखी हुई पोस्ट पूरे ध्यान से और पूरी पढ़ी होगी, अगर नहीं पढ़ी हो तो एक बार पहले पोस्ट पढ़ें, और अगर फिर आपको कहीं लगे कि यह बात ऐसे नहीं ऐसे होनी चाहिए थी, तो कृपया कमेंट के माध्यम से हमें बताएं धन्यवाद।


सुनील कुमार

Back to top