दुनिया के 10 खतरनाक माफिया गैंग


क्या आप जानते हैं अपराध जगत की दुनिया के 10 सबसे खतरनाक माफिया गिरोह के बारे में  इस लेख में हम दुनिया के 10 सबसे खतरनाक माफिया गिरोह के बारे में बात करने जा रहे है आपने दाऊद इब्राहीम, छोटा शकील या छोटा राजन जैसे अपराधियों के कई किस्से सुने होंगे। इनके गिरोह से जुड़ी कई बड़ी आपराधिक घटनाओं को भी खबरों में पढ़ा होगा लेकिन इन जैसे  अपराधियों की कहीं गिनती तक नहीं होती है। तो आइए जानते है|

दुनिया के 10 सबसे खतरनाक माफिया गैंग

दुनिया के 10 सबसे खतरनाक माफिया गिरोह के बारे में जिनके नाम से दुनिया थर्राती है।

1 रशियन माफिया: रशियन माफिया की क्रूरता दुनिया भर में मशहूर है। इस गिरोह के बारे में कहा जाता है कि अगर किसी से इनकी दुश्मनी हो जाए तो वो शख्स बहुत ही बेरहम मौत मारा जाता है। ये गिरोह दुनिया का सबसे बड़ा गैंग है। इसमें कई लाख अपराधी शामिल हैं। इसकी गतिविधियां दुनिया के हर देश में धड़ल्ले से चलती हैं। इसके अपराधी गुंडागर्दी के लिए भी जाने जाते हैं। यही नहीं इस गिरोह के संबंध दुनिया के कई आतंकी संगठनों से भी हैं। इसके अलावा दुनिया भर में इंसानी अंगों की तस्करी में भी ये गिरोह सक्रिय है। दुनिया के किसी भी देश में कभी भी कहीं भी किसी की हत्या करना इन अपराधियों के लिए बायें हाथ का खेल है। रशियन माफिया के गुर्गों से पुलिस भी कतराकर निकलती है। जिन इलाकों में इन अपराधियों के अड्डे हैं वहां से शरीफ लोग गुजरने से भी बचते हैं। रशियन माफिया के साथ दुनिया का कोई भी गैंग टकराने की हिम्मत नहीं जुटा पाता।

2 सिलियन माफिया: इटली के सिलियन माफिया के सामने दुनिया के बड़े-बड़े माफिया सिर झुकाते हैं। जी हां सिलियन माफिया छोटे मोटे अपराधियों की हिफाजत की जिम्मेदारी लेता है। ये गिरोह अपराध की बड़ी-बड़ी डील कराने में मध्यस्था निभाने में माहिर है। हथियारों की सप्लाई में भी सिलियन माफिया के हाथ सबसे लंबे हैं। खतरनाक से खतरनाक हथियार की डिलिवरी किसी भी देश में कभी भी कर सकते हैं। इस गिरोह की खास बात है कि इसके ज्यादातर सदस्य एक दूसरे से अंजान होते हैं। अगर एक दूसरे के सामने भी आ जाएं तो भी ये अपने साथियों को नहीं पहचान सकते। बस कोडवर्ड हैं जिनके जरिए ये एक दूसरे को पहचानते हैं। यही वजह है पुलिस अगर इस गिरोह के किसी एक सदस्य को पकड़ भी लेती है तो दूसरों तक पहुंचना बेहद मुश्किल होता है। इस गिरोह का सरगना बेहद शातिर है। वो टीम में नए सदस्यों को शामिल करने के लिए बारीक से बारीक बातों की जांच पड़ताल करता है। और फिर मुजरिम के अपराधों का रिकॉर्ड देखकर ही अपने गिरोह में शामिल करता है।

3 इस्राइली माफिया: इस्राइली माफिया के लोग आधी दुनिया में फैले हुए हैं। इस गिरोह के अपराधी लड़कियों को जिस्मफरोशी के धंधे में इस तरह शामिल करते हैं कि उन्हें पता ही नहीं चल पाता कि वो कब जुर्म की दुनिया में शामिल हो गईं। ये गैंग कई देशों की खुफिया एजेंसियों से मोटी रकम लेकर दूसरे देशों की अहम जानकारियां सप्लाई करता है। इस काम के लिए उन्हीं लड़कियों का इस्तेमाल किया जाता है जो जिस्मफरोशी के धंधे में लाई जाती हैं। इस्राइली पुलिस कई बार इस माफिया को खत्म करने की मुहिम चला चुकी है। लेकिन माफिया की जड़ें इतनी म्रुाबूत हैं कि पुलिस इनका बाल भी बांका नहीं कर पाती।

4 ट्रायड्स: ट्रायड्स गिरोह में बेहद खतरनाक और क्रूर अपराधी शामिल हैं। ये मुजरिम तड़पा-तड़पाकर मौत के घाट उतारने में माहिर हैं। इस गिरोह के सदस्य पैसे के लिए कुछ भी कर सकते हैं। इस गैंग में ऐसे-ऐसे शातिर चोरों की जमात भी मौजूद है जो करोड़ों रूपए पर इस तरह हाथ साफ करते हैं कि सामने वाले की नजरों को पता भी नहीं चल पाता। ये सिर्फ चीन ही नहीं बल्कि मलेशिया, हांगकांग, ताइवान और सिंगापुर के अलावा यूएस में भी घटनाओं को अंजाम देने में सक्षम हैं। वैसे तो इनका असली धंधा कॉन्ट्रेक्ट किलिंग है लेकिन अगर ये किसी को धमकी दे दें तो लोग खामोशी से करोड़ों रूपए देकर चले जाते हैं। कई देशों में ड्रग्स की सप्लाई भी इसी गिरोह के जरिए होती है।Mafia

5 मेक्सिकन माफिया: लॉस एंजेलिस का शहर वैसे तो दुनिया में एंटरटेनमेंट की राजधानी के नाम से मशहूर है। लेकिन जुर्म की दुनिया में इस शहर को गैंगलैंड के नाम से जाना जाता है। लॉस एंजेलिस में 45 हजार से ज्यादा अपराधी हैं जो किसी ना किसी गैंग के सदस्य हैं। लेकिन सभी गिरोह में सबसे खतरनाक माफिया गैंग है मेक्सिकन माफिया। ये गिरोह यूएस की जेलों से ऑपरेट होता है। इस गैंग में कई हजार सदस्य हैं। जो अमेरिका की अलग-अलग जेलों में फैले हुए हैं। माफिया की दुनिया में इन अपराधियों की दहशत ऐसी है कि अपराधी भी इन्हें हफ्ता देते हैं। उसके बदले मेक्सिकन माफिया उन अपराधियों की हिफाजत की जिम्मेदारी लेता है। बड़े से बड़ा अपराधी भी इन्हें हफ्ता देने से इंकार करने की हिम्मत नहीं जुटा पाता। वैसे तो इस गैंग के मुजरिम लूट, डकैती, अपहरण, उगाही और कत्ल जैसे सभी अपराध करते हैं। लेकिन प्रोटेक्शन के नाम पर छोटे अपराधियों और दलालों से उगाही करना इनका असली धंधा है। जिसने इन्हें प्रोटेक्शन मनी देने से इनकार किया समझ लीजिए उसकी जिंदगी की घड़ी बंद हो चुकी है। और किसी भी वक्त मौत उस पर झपट सकती है। ये वो अपराधी हैं जिनसे मुजरिम भी थर-थर कांपते हैं। लेकिन ऐसा नहीं है कि मेक्सिकन माफिया सबसे खतरनाक है। इनसे भी ज्यादा खतरनाक है वो गिरोह जिसने जापान में दहशत फैला रखी है।

6 यकूजा माफिया: इस गिरोह की सख्या है 10 हजार तादाद सुनकर ही आप समझ सकते हैं कि अगर ये अपराधी एक साथ किसी देश पर हमला कर दें तो अच्छी से अच्छी सेना को भी नाको चने चबाने पड़ सकते हैं। यकूजा माफिया को दुनिया का सबसे संगठित गिरोह माना जाता है। ये अपराधियों का एक मात्र गिरोह है जिसकी पहचान टैटू देखकर होती है। हर अपराधी के जिस्म पर से टैटू बनाए जाते हैं। कातिल के जिस्म पर अलग नक्काशी होती है तो पोर्न इंडस्ट्री को चलाने वाले अपराधी के जिस्म पर दूसरी तरह के टैटू होते हैं। इस गिरोह के अपराधी धमकी देकर उगाही करने में माहिर हैं। ये वो गिरोह है जिसने पूरी दुनिया में अश्लीलता को फैलाया है। जी हां दुनिया भर में पहुंचने वाली पोर्न फिल्में इसी गिरोह के जरिये सप्लाई होती हैं। पोर्न इंडस्ट्री को चलाने के लिए ये अपराधी दुनिया की हजारों लड़के लड़कियों को ब्लैकमेल भी करते हैं। यही नहीं अपने इस धंधे को म्रुाबूत करने के लिए ये गिरोह दुनिया के कई देशों में वेश्यावृति के लिए लड़कियां भी सप्लाई करता है। दुनिया के किसी भी देश की सरहद को पार करना इस गिरोह के अपराधियों के लिए बाएं हाथ का खेल है। एक देश से दूसरे देश में लोगों को गैरकानूनी तौर पर दाखिल कराने में यकूजा के गुर्गों को महारत हासिल है। यकूजा को दुनिया का सबसे बड़ा माफिया गिरोह भी कहा जाता है।

7 अलबेनियन माफिया: ये गिरोह मुख्य रूप से अलबानिया में सक्रिय है लेकिन इनका धंधा अमेरिका और यूरोप तक भी फैला हुआ है। अपराध जगत में अलबेनियन गिरोह को सबसे क्रूर माना जाता है। इनके बारे में पहले से कोई अंदाजा लगा पाना बेहद मुश्किल है। अमेरिका और यूरोप में जिस्म फरोशी के ज्यादातर अड्डे इन्हीं के रहमो करम पर चलते हैं। मासूम लड़कियों को कोठों तक पहुंचाने में इस गिरोह के अपराधी बेहद शातिर हैं। एक बार जो लड़की इनके चंगुल में फंस गई फिर मौत ही उसे इस दलदल से निकाल सकती है। अगर कोई लड़की भागने की कोशिश करती है तो ये जालिम ऐसी भयानक मौत देते हैं कि कोई दूसरी लड़की हिम्मत भी नहीं जुटा सकती। एक बार इनके चंगुल में जो लड़की फंस गई फिर पुलिस भी उसे आजाद नहीं करा सकती। इनका दूसरा धंधा है ड्रग्स की तस्करी। अमेरिका और यूरोप में नौजवानों की नसों में दौड़ने वाला नशीला जहर अलबेनियन माफिया की देन है। दूसरे अपराधी गिरोह भी इस गैंग के अपराधियों से कतराकर अपना धंधा करते हैं। जिस्मफरोशी और ड्रग्स की सप्लाई के लिए अमेरिका और यूरोप में इस गिरोह का एक छत्र राज है।

8 जमायकन यारडीज: ये नाम है उस दहशत का जिससे ब्रिटेन में रहने वाले लोग थर्राते हैं। इंग्लैंड में ड्रग्स की सप्लाई हो या फिर हथियारों की तस्करी। इन अपराधों पर इस गिरोह की बादशाहत जमाने से कायम है। ये गिरोह कॉन्ट्रेक्ट किलिंग के लिए भी बदनाम है। जमायकन यारडीज के गुर्गे पैसे लेकर किसी को कहीं भी मौत के घाट उतार सकते हैं। इस गैंग के सदस्यों के पास दुनिया के खतरनाक हथियारों का जखीरा है। ब्रिटेन में वैसे तो कानून का राज कायम है। लेकिन अपराध की काली दुनिया में जमायकन यारडीज की सलतनत है। अगर कोई दूसरा गिरोह इस धंधे में हाथ आजमाने की कोशिश करता है तो समझ लीजिए खूनी जंग का ऐलान। यही वजह है ब्रिटेन में गैंगवार आम बात है। यहां हर हफ्ते 70 से ज्यादा गोलीबारी की घटनाएं गैंगवार की वजह से होती हैं।

9 ड्रग कार्टेल: ड्रग कार्टेल जैसा की नाम से ही साफ है ये गिरोह दुनिया में नशे का सबसे बड़ा सौदागर है। इस गिरोह के रास्ते में जो आया वो मौत की नींद सो गया। ये गैंग ना जाने कितने देशों में सप्लाई होने वाले नशे को कंट्रोल करता है। जहां इन अपराधियों का साम्राज्य है वहां कोई दूसरा अपराधी टिक नहीं सकता। ये अपराधी सिर्फ ड्रग्स की सप्लाई ही नहीं करते बल्कि दुनिया के कई देशों में पैदा होने वाली नशे की खेती भी कराते हैं। चरस, गांजा, कोकीन, स्मैक नशे से जुड़ी हर वैरायटी इनके पास होती है। इस गिरोह के ज्यादातर अपराधी खुद भी नशे के गुलाम होते हैं। यही वजह है बड़े से बड़े खूंखार मुजरिम भी इनके रास्ते में आने की हिम्मत नहीं जुटा पाते।

10 सर्बियन माफिया: सर्बियन माफिया इनका धंधा दस से ज्यादा देशों में फैला हुआ है। वैसे तो ये गिरोह स्मगलिंग खासतौर पर ड्रग्स तस्करी में सक्रिय रहता है। लेकिन इस गैंग को कॉन्ट्रेक्ट किलिंग के लिए सबसे खतरनाक माना जाता है। ये गिरोह कॉन्ट्रेक्ट लेकर बड़ी राजनीतिक हत्याओं को करने से भी नहीं चूकता। गिरोह का हर सदस्य हमेशा खतरनाक हथियारों से लैस रहता है। एक बार किसी की सुपारी मिल गई तो ये अपने शिकार को ठिकाने लगाने के लिए पूरी रिसर्च करते हैं। गिरोह में बेहतरीन शूटर्स की पूरी टीम है। जो बहुत दूर से भी सटीक निशाना लगाकर किसी को भी मौत की नींद सुला सकते हैं। जिन दस देशों में जब कोई बड़ी हत्या होती है तो पुलिस इसी गिरोह से अपनी जांच शुरू करती है। सर्बियन माफिया को दूसरे लफ्जों में मौत के सौदागर कहा जाता है। इनके लिए इस बात से कोई मतलब नहीं है कि मरने वाला कौन है। इनके लिए तो बस पैसा मायने रखता है।


सुनील कुमार

Back to top