वायरल बुखार को ठीक करने के घरेलू उपचार


जब भी मौसम में परिवर्तन होता है तो परिवार में कोई ना कोई बीमार जरुर पड़ जाता है और जब हम डोक्टर के पास जाकर इस की जाँच कर वाते है तो यह नाम सुनाई देता है कि वायरल फीवर हो गया है और डॉक्टर्स और हॉस्पिटल मैं एक लंबी कतार होती है इस बीमारी को ठीक करने के लिये और डॉ जांच और कुछ एंटीबायोटिक और साल्ट लेकर हम ठीक होते हो जाते है और जब तक जेब से करीब 300 से 500 रुपए  तक खर्च हो जाते है ।

आज कल के इस मोसम में वाइरल फीवर बहुत तेजी से फैला हुआ है और उसका कोई पक्का इलाज भी नहीं है। वाइरस अपना चक्र पूरा करता ही करता है। पर हम डॉक्टर्स के पास जाकर अपना पैसा बर्बाद करने के बजाये अपने ही घर पर रह कर कुछ छोटे – छोटे उपायों से अपने आपको इस वाइरल फीवर से बचा सकते है और साथ ही साथ डॉक्टर्स की मोती फीस से भी बच सकते है|

वायरल फीवर के मुख्य लक्षण

वायरल फीवर होने वाले शरीर में कुछ इस तरह के लक्षण दिखाई देते हैं जैसे गले में दर्द, खांसी, सिर दर्द थकान, जोड़ों में दर्द के साथ ही उल्टी और दस्त होना, आंखों का लाल होना और माथे का बहुत तेज गर्म होना आदि| बड़ों के साथ-साथ यह वायरल फीवर बच्चों में भी तेजी से फैलता है|

इन घरेलू उपचार से आप इस वायरल फीवर से राहत पा सकते हैं

1 छोटा चम्मच सादा सफ़ेद नमक को तवे पर तब तक भूनें जब तक वह अपना रंग न बदलने लगे रंग बदलते ही (हल्का भूरा या हल्का सा कालिमा लिए हुए) ही इसे तवे से उतार लें और इसमें तुरंत 1 चम्मच अजवाइन भून लें (ध्यान रखें भूनें पर जले न) अब इस मिश्रण को इक ग्लास पानी में घोल कर उसमें इक पूरा नींबू निचोड़ कर पी लें| आपका बुखार एक दिन में ही छू मंतर हो जायेगा|

नोट: ये नुस्ख़ा Tified और Malaria में भी उतना ही कारगर है|

2 हल्दी और सौंठ का पाउडर अदरक में एंटी आक्सिडेंट गुण बुखार को ठीक करते हैं| एक चम्मच काली मिर्च का चूर्ण, एक छोटी चम्मच हल्दी का चूर्ण और एक चम्मच सौंठ यानी अदरक के पाउडर को एक कप पानी और हल्की सी चीनी डालकर गर्म कर लें, जब यह पानी उबलने के बाद आधा रह जाए तो इसे ठंडा करके पिएं इससे वायरल फीवर से आराम मिलता है|

3 तुलसी में एंटीबायोटिक गुण होते हैं जिससे शरीर के अंदर के वायरस खत्म होते हैं| एक चम्मच लौंग के चूर्ण और दस से पंद्रह तुलसी के ताजे पत्तों को एक लीटर पानी में डालकर इतना उबालें जब तक यह सूखकर आधा न रह जाए, इसके बाद इसे छानें और ठंडा करके हर एक घंटे में पिएं आपको वायरल से जल्द ही आराम मिलेगा|

4 धनिया सेहत का धनी होता है इसलिए यह वायरल बुखार जैसे कई रोगों को खत्म करता है.वायरल के बुखार को खत्म करने के लिए धनिया चाय बहुत ही असरदार औषधि का काम करती है|

5 आपके किचन में मेथी तो होती ही है.मेथी के दानों को एक कप में भरकर इसे रात भर के लिए भिगों लें और सुबह के समय इसे छानकर हर एक घंटे में पिएं. जल्द ही आराम मिलेगा|

6 नींबू का रस और शहद भी वायरल फीवर के असर को कम करते हैं| आप शहद और नींबू का रस का सेवन भी कर सकते हैं|

नोट- ये केवल घरेलू उपचार हैं, और इन्हें चिकित्सा सलाह के स्थान पर प्रयोग नहीं किया जाना चाहिए। यदि आपका बुखार नहीं उतर रहा है तो आपको डॉक्टरी सलाह लेनी चाहिए और उनके दिशा निर्देश का पालन करना चाहिए।

यह मैसेज अगर आपको अच्छा लगे या समझ में आये की यह किसी के लिया रामबाण की तरह काम आएगा तो आप से निवेदन है कि आप इस मैसेज को अपने परिचित /मित्रो को भेज दे।क्या पता आपके इस एक मैसेज से किसी का भला हो जाये|

स्वस्थ रहो मस्त रहो व्यस्त रहो और सदा खुश रहो

कम उम्र में सफेद हुए बालों को काला करने कुछ आसान घरेलू उपाए
बढ़ती उम्र का असर ऐसे करें कम
गर्भवती महिलाओं को क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए


सुनील कुमार

Back to top