अगर आपको बाप बनना हे तो भूल कर भी न करें ये 10 काम


यदि कोई महिला गर्भ धारण नहीं कर पाती है, तो इसके कई कारण होते हैं। इसमें महिला के साथ ही पुरुष की प्रजनन तंत्र संबंधी समस्याएं भी बराबर की जिम्मेदार होती हैं। यानी संतान को जन्म देने के लिए पति-पत्नी दोनों का ही पूर्ण रूप से सक्षम होना जरूरी है। जहां तक पुरुषों की बात है, तो उनके वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या, उनकी गति और आकार एक तय मानक के अनुसार होना आवश्यक है।

वैज्ञानिकों का कहना है कि यह शरीर आपका है, और उसमें कमियों को महसूस भी आप ही को करना होता है | शरीर का हर अंग ज़रूरी होता है, हर बीमारी को लेकर जैसे हम खुलकर बात करते हैं वैसे ही अपने गुप्तांगों में किसी समस्या को लेकर भी शर्मिंदगी नहीं सतर्क रहने की ज़रूरत है. दुनिया भर में लाखों लोग नपुंसकता या नामर्दी से जूझ रहे हैं| कई बार यह हमेशा के लिए नहीं होता है और कुछ लोगों को इसका सामना छोटे वक़्त के लिए भी करना पड़ता है|

आज हम आपको ऐसे 10 काम बताने जा रहे हैं जिनसे युवाओं में नपुंसकता या नामर्दी की समस्या आ रही है। ये 10 काम बंद करके या कम करके नपुंसकता या नामर्दी से बचा जा सकता है। तो आइये जानते हैं कि वो कौन से 10 कारण हैं जो पुरुषों में नपुंसकता या नामर्दी का कारण बनते हैं।

Also Read This: नपुंसकता के कारण, लक्षण और इसका उपचार

10 एसे कारण जो पुरुषों में नपुंसकता या नामर्दी का कारण बनते हैंFather

नशा:- नपुंसकता या नामर्दी का सबसे बड़ा कारण नशा है। आज का युवा शराब और सिगरेट का अधिक सेवन करता है। दरअसल, शराब और सिगरेट में मौजूद टॉक्सीन्स से स्पर्म काउंट पर नकारात्मक असर पड़ता है।

जंक फ़ूड:- नपुंसकता या नामर्दी का आज कल यह भी एक सबसे बड़ा कारण माना जाता है की ज्यादा मात्रा में जंक और तैलीय फुड खाना है। इसलिए ऐसे खाने से बचे।

नींद:- अनिद्रा या आवश्यक नींद न लेना भी नपुंसकता या नामर्दी का कारण है। नींद पूरी न होने की वजह से बॉडी में टॉक्सीन्स हार्मोन्स रिलीज होते है और जिसकी वजह से स्ट्रेस और डिप्रेशन के बढ़ने से फर्टिलिटी कम हो जाती है।

हॉर्स राइडिंग और साइकिलिंग:- ज्यदा हॉर्स राइडिंग और साइकिलिंग भी नपुंसकता या नामर्दी का कारण हो सकती है। इसलिए ऐसा न करें।

मोटापा:- मोटे लोगों में नपुंसकता या नामर्दी आम बात है। इसकी वजह ये है कि मोटापे के कारण टेस्टोस्टेरोन नामक हार्मोन्स का लेवल कम हो जाता है, जो नपुंसकता या नामर्दी का कारण बनता है।

लैपटॉप और फ़ोन:- लैपटॉप और फ़ोन का गलत तरीके से इस्तेमाल न करें। कई लोग देखाजाता है कि लैपटॉप को जांघो पर इस्तेमाल करते हैं ऐसा नहीं करना चाहिए। मोबाइल को भी ज्यादा देर तक जेब में न रखें।

गर्म पानी:- ठंड में गर्म पानी से नहाना किसे पसंद नहीं होता, लेकिन अधिक गर्म पानी से नहाना स्पर्म काउंट को कमजोर करता है। इस लिए ज्यदा गर्म पानी से न नहाए|

टाइट अंडरवियर:- टाइट अंडरवियर भी नपुंसकता या नामर्दी का कारण हो सकती है। टाइट अंडरवियर से हमारे अंडकोष को पर्याप्त मात्रा में हवा नहीं मिल पति है| जिसके चलते हमारे स्पर्म काउंट कम हो जाते है| इसके लिए ऐसी अंडरवियर पहनने से बचे।

अधिक चिंता:- कहा जाता है कि चिंता चिता के समान होती है। लेकिन, चिंता नपुंसकता या नामर्दी का कारण भी बन सकती है। चिंता से शारीरिक क्षमता पर असर पड़ता है और नपुंसकता या नामर्दी जैसी बिमारियों को  जन्म देती है।

बीमारी:- यदि किसी पुरुष के शरीर में लम्बे समय से कोई बड़ी बीमारी होती है जैसे टीबी, मधुमेह, ह्रदय रोग इत्यादि से भी व्यक्ति के स्पर्म काउंट कमजोर होते जाती है।

10 देशों में एक सर्वे चार हज़ार से ज़्यादा लोगों पर किया गया था, इस सर्वे में सभी देशों के औसत 50 फ़ीसदी लोगों का मानना था कि नपुंसकता की वजह मनोवैज्ञानिक है| यह सच है कि नामर्दी में तनाव, पार्टनर से समस्या, चिंता और अवसाद के साथ दिमाग़ी फितूर की बड़ी भूमिका होती है|


सुनील कुमार

Back to top