प्रधान मंत्री उज्ज्वला योजना की पूरी जानकारी


देश के इतिहास में पहली बार पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय निर्धनतम परिवारों की करोड़ो महिलाओं को लाभ पहुंचाने वाली योजना का कार्यान्वयन करेगा। आप सभी लोग जानते होंगे कि कुछ समय पहले से ऐसे व्यक्तियों जो की सम्पन्न है उन्हें अपनी एलपीजी सब्सीडी छोड़ने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा था. इसी के चलते करीब 1.13 करोड़ लोगो ने अपनी एलपीजी सब्सीडी छोड़ी है और इन पैसों को सरकार द्वारा इक्कठा किया गया. अब अच्छी बात यह है की इस इक्कठा की गयी राशि का उपयोग एक नयी योजना के अंतर्गत किया जा रहा है.

प्रधान मंत्री उज्ज्वला योजना

PMUY प्रधान मंत्री उज्ज्वला योजना एक नयी योजना है जिसे प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी की भारत सरकार द्वारा शुरू किया जा रहा है। इस योजना के अंतर्गत भारत सरकार 5 करोड़ BPL परिवारों को मुफ्त में एलपीजी कनेक्शन केवल गरीबी रेखा से नीचे के परिवारों से सम्बंधित महिलाओं को ही दिया जाएगा। योजना का शुभारंभ प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा किया जा चुका है।

प्रधान मंत्री उज्ज्वला योजना एक बहुत ही महत्वाकांक्षी सरकारी योजना है जिसे भारत सरकार के पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय के अंतर्गत चलाया जायेगा। इस योजना के लिए भारत सरकार ने 8000 करोड़ रुपये का बजट बनाया है।pradhan mantri ujjwala yojana

प्रधान मंत्री उज्ज्वला योजना का उद्देशय

उज्ज्वला योजना का मुख्य उद्देश्य पूरे भारत में स्वच्छ ईंधन के उपयोग को बढ़ावा देना है जो कि मुफ्त में एलपीजी कनेक्शन वितरित करके पूरा किया जा सकता है। योजना के लागू करने का एक उद्देशय यह भी है कि इससे महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा मिलेगा और महिलाओं के स्वास्थ्य कि भी सुरक्षा कि जा सकती है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में खाना पकाने के लिए उपयोग में आने वाले अशुद्ध जीवाश्म ईंधन की जगह शुद्ध एलपीजी गैस के उपयोग को बढ़ावा देना है। इसके अलावा योजना के लागू होने से कई और भी फायदे हैं जैसे की

  • जीवाश्म ईंधन के उपयोग के कारण होने वाले वायु प्रदूषण को कम करने में सहायता करना।
  • जीवाश्म ईंधन पर आधारित खाना पकाने के साथ जुड़े स्वास्थ्य के गंभीर खतरों को कम करना।
  • अशुद्ध ईंधन पर खाना पकाने की वजह से भारत में होने वाली मौतों की संख्या को कम करना।
  • घर के अंदर के वायु प्रदूषण में तीव्र श्वसन की वजह से युवा बच्चों में होने वाली बीमारियों की रोकथाम।
  • फ्री एलपीजी कनेक्शन स्कीम की शुरवात(प्रधान मंत्री उज्ज्वला योजना)

मुझे यह बताते हुये बहुत ख़ुशी हो रही है की हमारे देश में कई लोग ऐसे है जिन्होंने अपनी एलपीजी सब्सीडी छोड़ने वाली स्कीम में भाग लिया है यह भागीदारी यह साबित करती है की लोग अपने देश के लोगो के बारे में सोचते है और कुछ अच्छा करना चाहते है बहुत सारे लोगों की भागीदारी के करण हमारी सरकार एक अच्छी राशि एकत्रित सर पाई है और अब इन पैसो का उपयोग फ्री एलपीजी कनेक्शन उज्ज्वला योजना में किया जा रहा है. इस योजना की शुरवात कुछ लोगों के द्वारा अपनी एलपीजी सब्सीडी छोड़ने के कारण ही हो पायी वे सभी लोग जिन्होंने अपनी एलपीजी सब्सीडी छोड़ी है प्रशंसा के पात्र है.

वित्तीय सहायता

योजना के अंतर्गत भरा सरकार पात्र बीपीएल परिवारों को एलपीजी कनेक्शन के लिए 1600 रुपए की वित्तीय सहायता प्रदान कर रहा है। इस योजना के तहत एलपीजी कनेक्शन परिवारों की महिलाओं को नाम पर दिया जाएगा। सरकार स्टोव और सिलेंडर भरवाने की लागत को पूरा करने के लिए ईएमआई की सुविधा भी प्रदान करेगी।

प्रधान मंत्री उज्ज्वला योजना के लिए कैसे आवेदन करें

योजना के लिए आवेदन करना बहुत ही आसान है। जो भी इच्छुक उम्मीदवार योजना का लाभ उठाना चाहते हैं उन्हें योजना का आवेदन पत्र भरकर अपने नजदीकी LPG वितरण केंद्र में जमा कराना है।

उज्ज्वला योजना का आवेदन पत्र LPG वितरण केंद्र से मुफ्त में प्राप्त किया जा सकता है अथवा ऑनलाइन भी डाउनलोड किया जा सकता है। 2 पन्ने के आवेदन पत्र में मांगी गयी सभी जानकारी जैसे कि नाम, पता, आधार कार्ड नंबर, जन धन / बैंक खाता संख्या इत्यादि भरना आवश्यक है।

आवेदन पत्र के अंदर ही आवेदक यह चयन कर सकता ही कि उसे 14.2 किलो वाला गैस सिलिंडर चाहिए या फिर 5 किलो वाला।

प्रधान मंत्री उज्ज्वला योजना के लिए आवेदन पत्र

उज्ज्वला योजना के लिए आवेदन करने के लिए निर्धारित आवेदन पत्र अपने नजदीकी एलपीजी वितरण केंद्र से मुफ्त में प्राप्त किया जा सकता है। आवेदन पत्र ऑनलाइन भी डाउनलोड किया जा सकता है उसके बाद प्रिंट लेकर भरा जा सकता है।

आवेदन पत्र हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओँ में उपलब्ध है। आवेदन पत्र ऑनलाइन डाउनलोड करने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें। https://goo.gl/v2eoag

योजना के लिए आवश्यक दस्तावेजों की सूची

उज्ज्वला योजना के लिए आवेदन करने के लिए इच्छुक BPL परिवार की महिला सदस्य निर्धारित आवेदन पत्र भरकर अपने नजदीकी LPG वितरण केंद्र में जमा करा सकते हैं। याद रहे कि जिन BPL परिवारों के पास योजना के आरम्भ के समय तक एलपीजी कनेक्शन नहीं है केवल वही योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं। आवेदन पत्र के साथ संलग्न करने वाले दस्तावेजों कि सूची इस प्रकार है।

  • पंचायत अधिकारी या नगर पालिका अध्यक्ष द्वारा अधिकृत BPL प्रमाणपत्र
  • BPL राशन कार्ड
  • एक फोटो ID जैसे की आधार कार्ड या मतदाता पहचान पत्र
  • एक पासपोर्ट साइज फोटो
  • आधार कार्ड की प्रति
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • लीज करार
  • मतदाता पहचान पत्र
  • टेलीफोन, बिजली या पानी का बिल
  • पासपोर्ट की प्रति
  • राजपत्रित अधिकारी द्वारा सत्यापित स्व-घोषणा पत्र
  • राशन कार्ड
  • फ्लैट आवंटन / कब्ज़ा पत्र
  • आवास पंजीकरण दस्तावेज
  • LIC पालिसी
  • बैंक / क्रेडिट कार्ड स्टेटमेंट
  • जरूरी नहीं कि ऊपर दिए गए सभी दस्तावेजों को आवेदन पत्र के साथ संलग्न किया जाए, इस बारे में अधिक जानकारी के लिए आप एलपीजी वितरण केंद्र पर जाकर पता करें।

उज्ज्वला योजना के लिए पात्रता

प्रधान मंत्री उज्ज्वला योजना के लिए इच्छुक लोगों का योजना के लिए पात्र होना अति आवश्यक है। जो भी आवेदक पात्र नहीं पाये गए उन्हें गैस कनेक्शन नहीं दिया जाएगा। पात्रता के मुख्य बिंदु इस प्रकार हैं।

  • आवेदक द्वारा दी गयी सभी जानकारी को SECC – 2011 डेटा के साथ मिलाया जाएगा तथा उसके पश्चात ही यह निर्णय लिया जाएगा की आवेदक योजना का पात्र है या नहीं
  • आवेदक की उम्र 18 साल या इससे अधिक होनी चाहिए
  • आवेदक BPL परिवार से सम्बन्ध रखने वाली महिला ही होनी चाहिए, पुरुष इस योजना के लिए आवेदन नहीं कर सकते.
  • आवेदक के घर में किसी के नाम से पहले से ही कोई भी LPG कनेक्शन नहीं होना चाहिए
  • आवेदक के पास BPL प्रमाण पत्र अथवा BPL राशन कार्ड का होना आवश्यक है
  • आवेदक द्वारा आवेदन फॉर्म में दी गयी सभी जानकारी ठीक होनी चाहिए

योजना का कार्यान्वयन

योजना वित्त वर्ष 2016-17 से लेकर 2018-19 तक 3 वर्ष के लिए चलायी जायेगी। इस योजना के अंतर्गत ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में रह रहे परिवार जो की गरीबी रेखा से नीचे हैं उन्हें मुफ्त में LPG गैस कनेक्शन उपलब्ध कराया जाएगा।


सुनील कुमार

Back to top