शरीर की गंदगी बाहर निकालने के उपाय


गंदगी सिर्फ हमारे आसपास, बाहर और शरीर के ऊपर ही नहीं जमा होती, बल्कि यह शरीर के अंदर भी जमा होती है। जो आपकी सेहत के लिए बहुत हानिकारक होती है|  शरीर की गंदगी का मतलब है विषैले और हानिकारक पदार्थ जो खाने पिने की गलत आदतों से शरीर में जमा होने लगते है| इन हानिकारक पदार्थों को शरीर से बाहर निकालने की प्रक्रिया को Body Detox करना कहते है| ये पदार्थ हमारी रोगों से लड़ने की शक्ति को प्रभावित करते है| जिसकी वजह से हमे सुस्ती आना, हर समय आलस लगना, चेहरे पर कील मुहांसे निकलना, बाल गिरना, पेट के रोग लगना, अपच होना और इंफ़ेक्शन की चपेट में जल्दी आ जाना जैसे रोग हो जाते है| शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकालकर आप एक स्वस्थ जिंदगी जी सकते हैं। कुछ खाद्य पदार्थ ऐसे भी हैं, जो आपके शरीर और लिवर (liver) को शुद्ध करते हैं और आपमें एक नई ऊर्जा का संचार करते हैं।

आइये जानते हैं नैचुरल डेटोक्सिफायर के बारे में

Body Detox करने के फायदे Health Tips

1. शरीर का वजन कम करने में मदद मिलती है|

2. बॉडी को फिट और तरोताजा महसूस करते है|

3. शरीर में रोगों से लड़ने की प्रतिरोधक क्षमता बढती है|

4. शरीर से हानिकारक और विषैले पदार्थ बाहर निकल जाते है|

5. खून भी साफ होने लगता है जिससे शरीर पिम्पल और फुंसी निकलना बंद हो जाती है|

6. बालों का झड़ना रुक जाते है और बालों की अन्य समस्याओं में भी राहत मिलती है|

7. बुढ़ापा जल्दी नहीं झलकता है|

Also Read: क्या आपको पता हे आक (मदार) के पौधे के चमत्कारी गुणों के बारे में जानकर हेरान रह जाएगे आप

बॉडी को डी-टॉक्सिफ़ाई करने के उपाय

1. सुबह गरम पानी में नींबू डालकर पीना चाहिए और दिन में 3 बार ग्रीन टी पीनी चाहिए। ग्रीन टी के एंटीऑक्सीडेंट्स शरीर का मेटाबॉलिक रेट बढ़ाते हैं, जिससे वज़न नहीं बढ़ता है।

2. रोज़ रात को थोड़ा सा खड़ा धनिया, काली मिर्च, जीरा, बड़ी इलायची को एक चौथाई गिलास पानी में भिगोकर रखें, और सुबह इसे उबालें। फिर इसे छानकर पी जाएँ।

3. दालचीनी को थोड़े पानी भिगोकर रखें और सुबह ज़रा सी अदरक के साथ इस पानी को पिएँ। इससे मेटाबॉलिज़्म बढ़ता है, जिससे पेट की चर्बी घटती है।

शरीर की अशुद्धियाँ दूर करने के लिए क्या खाए

आज कल के बच्चे जंक फ़ूड बहुत पसंद करते है, पर क्या आप जानते हैं कि ये सब आपके शरीर को बहुत नुक़सान पहुचाता है। शरीर जंक फ़ूड से होने वाले नुक़सान न झेले इसके लिए ज़रूरी है कि आप शरीर के अंदर जमा अपशिष्ट पदार्थों को बाहर निकाल दें। इसके लिए आप अग्रलिखित खाद्य पदार्थों का सेवन करें।

Also Read: मोमोज खाना क्यों है हानिकारक

लहसुन:- शरीर से टोक्सिन निकालने की प्रक्रिया में लहसुन आपकी काफी मदद कर सकता है। लहसुन में एंटी-वायरल एंटीसेप्टिक और एंटीबायोटिक गुण होते हैं। इसके साथ ही लहसुन में भरपूर मात्रा में सल्फ्यूरिक तत्व मौजूद होते हैं जिससे यह एक बेहतरीन डेटॉक्सिफायर बनता है। ये तत्व शरीर में ग्लूथाथीओन नामक एंटी-ऑक्सीडेंट के निर्माण में सहायक होते हैं। ये शरीर में मौजूद रसायन और भारी धातु सहित अन्य विषैले तत्वों को भी बाहर निकाल देते हैं। खाने के साथ एक-दो कली कच्चे लहसुन की खाएं।

हरा धनिया:- हरा धनिया एंटी सेप्टिक और एंटीफ़ंगल गुणों से युक्त होता है, जिससे लीवर साफ़ करने वाले एंजाइम सामान्य रूप से बनते रहते हैं। आप इसकी पत्तियाँ कच्ची भी खा सकते हैं या खाने में डाल सकते हैं।

अदरक:- अदरक में काफी सारे औषधीय गुण होते हैं, जिनका प्रयोग बहुत पहले से ही किया जाता रहा है। इसमें कई प्रकार के स्वास्थ्यकर गुण होते हैं, और आप इनका पूरी तरह फायदा उठा सकते हैं। आप पानी के उबलने के दौरान चाय में अदरक डाल सकते हैं, इससे चाय तो बेहतरीन बनेगी ही साथ ही आपको अदरक के स्वास्थवर्धक गुण भी मिल जाएँगे। अदरक का इस्तेमाल आप खाने को स्वादिष्ट बनाने के लिए भी आसानी से कर सकते हैं। जहाँ तक हो सके इसे कच्चा ही इस्तेमाल करने की कोशिश करें। आप चाहें तो इसे किसी चटनी में मिलाकर इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे भी आपके शरीर से अशुद्धियाँ बाहर निकालने में काफी सहायता मिलेगी।

Also Read: नपुंसकता के कारण, लक्षण और इसका उपचार

नींबू:- इसमें मौजूद वाइटमिन सी फ्री रेडिकल्स को ख़त्म करता है। गुनगुने पानी में नींबू निचोड़क्र पीने से शरीर के टॉक्सिन बाहर निकल जाते हैं, जिससे pH स्तर सामान्य बना रहता है। साथ ही यह इम्यून सिस्टम को शक्तिशाली बनाता है।

बंदगोभी:- बंदगोभी एक बेहद आम सब्ज़ी है, जिसे हम काफी ज़्यादा प्रयोग में लाते हैं। ये काफी स्वादिष्ट और स्वास्थ्यकर भी होती है। गोभी का सबसे ज़्यादा फायदा शरीर को तब होता है, जब इनका सेवन सलाद के रूप में किया जाए। इसमें कोलेस्ट्रोल (cholesterol) की मात्रा काफी कम होती है और इससे आपके लिवर को काफी फायदा पहुंचता है। निरंतर रूप से गोभी का सेवन करने से आपका मलाशय (excreting system) बिल्कुल स्वस्थ रहता है, और इसके फलस्वरूप शरीर की अशुद्धियाँ दूर होती हैं।

अखरोट:- इसमें पाया जाने वाला ओमेगा-3 फ़ैटी एसिड हृदय को स्वस्थ रखने के साथ उसे डी-टॉक्सिफ़ाई भी करता है। अखरोट मैग्नीशियम, कॉपर और बॉयोटीन का स्रोत है, जो प्रोस्टेट कैंसर को रोकता है। साथ ही शरीर को फ्री रेडिकल्स से मुक्त करता है, जिससे आप बढ़ती उम्र के साथ जवां नज़र आते हैं।

Also Read: कमजोर हड्डियों को मजबूत बनाने के उपाय

एवोकैड़ो:- एवोकैड़ो एंटी ऑक्सीडेंट (antioxidant) से भरपूर होते हैं, और इसी की वजह से ये शरीर की अशुद्धियों को दूर करने में हमारी सहायता करते हैं। ज़्यादातर लोग शुरुआत में इसे खाने से हिचकिचाते हैं और ऐसा इसलिए क्योंकि इसमें काफी मात्रा में वसा होती है। अगर आपने रस और जैविक एवोकैड़ो का चयन किया है, तो इससे आप निश्चित रूप से शरीर की अशुद्धियों को दूर कर सकते हैं।

हल्दी:- हल्दी में करक्यूमिन (curcumin) नामक पदार्थ होता है जो इसके पीले रंग का कारण होता है। यह पदार्थ से शरीर के टॉक्सिन्स निकालने में मदद करता है। करक्यूमिन का आयुर्वेदिक दवाइयों में किडनी की और हाज़मे की बीमारियां ठीक करने मे प्रयोग किया जाता है। हल्दी को किसी ना किसी तरह से अपनी डाइट में शामिल कर लें।

ग्रीन टी:- ग्रीन टी आपके शरीर से विषैले पदार्थों को निकालने के लिए सबसे कारगर तत्व है। ग्रीन टी का रोज़ाना सेवन करने से आपका शरीर स्वस्थ रहता है और आपको हल्कापन भी महसूस होता है। यह एंटी-ऑक्सीडेंट्स (anti-oxidants) से भरपूर होती है| यह आपके शरीर की कोशिकाओं को खराब होने से बचाती है, क्योंकि इसमें मौजूद तत्व आपके शरीर के फ्री रेडिकल्स (free radicals) से लड़ने में काफी कारगर साबित होते हैं। यह बाकी सारे पेय पदार्थों जैसे चाय, काफी में से एक है|

ब्रोकली:- ब्रोकली एक काफी पोषण प्रदान करने वाली सब्ज़ी है। ये न सिर्फ देखने में आकर्षक लगती है, बल्कि इनसे आपके शरीर को भी काफी फायदा प्राप्त होता है। ब्रोकली में एंजाइम (enzyme) होते हैं, जो काफी आसानी से आपके शरीर की अशुद्धियों को निकाल बाहर करने की क्षमता रखते हैं। उबली या कच्ची ब्रोकली आपके शरीर से सबसे ज़्यादा प्रभावी रूप से अशुद्धियों को निकालने की क्षमता रखती है।

खीरा:- खीरे में मिनिरल्स युक्त पानी टॉक्सिंस को बाहर निकलता है, और साथ में इसमें मौजूद फ़ाइबर आपके पेट की सफ़ाई कर देते हैं।

Also Read: शारीरिक कमजोरी को दूर करने के आयुर्वेदिक उपचार

चुकंदर/बीटरूट:- बीटरूट में प्रचुर मात्रा में विटामिन B 3, B 6 और बीटा कैरोटीन मौजूद होते हैं। इनमें आयरन, मैग्नीशियम, जिंक एवं कैल्शियम की काफी मात्रा होती है जो शरीर के टॉक्सिन्स को निकालने और शरीर स्वस्थ रखने में काफी बड़ी भूमिका निभाते हैं। इसके साथ ही बीटरूट में फाइबर की भी काफी ज़्यादा मात्रा होती है, जिससे हाज़मे में सहायता मिलती है, और शरीर की सारी गन्दगी दूर होती है। बीटरूट पित्ताशय और किडनी को स्वस्थ रखते हैं जो कि शरीर से टॉक्सिन्स ख़त्म करने के मुख्य अंग हैं।

गेहूँ की घास का रस:- गेहूँ के ज्वारे में सभी पोषक तत्व होते हैं। इसलिए शरीर की गंदगी बाहर निकालने के लिए आपको रोज़ व्हीटग्रास जूस पीना चाहिए।

शरीर की अशुद्धियों को रोकने के उपाय

हल्का खाना खाएँ:-  पुरानी कहावत है, कम खाओ गम खाओ। इसलिए रात में सोने से पहले हल्का भोजन करना चाहिए।

Also Read: बढ़ती उम्र का असर ऐसे करें कम

शराब और स्मोकिंग:- स्मोकिंग और शराब के सेवन से पूरी तरह बचना चाहिए।

पानी अधिक पिएँ:- अधिक पानी पीने से शरीर की गंदगी पेशाब और पसीने के रास्ते से बाहर निकल जाती है। इसलिए 4 लीटर पानी रोज़ पिएँ।

चीनी कम खाएँ:- चीनी शरीर में टॉक्सिन के लिए काफ़ी ज़िम्मेदार है, इसलिए चीनी और इससे बनने वाले खाद्यों का कम से कम सेवन कीजिए।

बॉडी मसाज:- सप्ताह में एक बार अच्छे से बॉडी मसाज करवाना चाहिए। इससे रक्त संचार सही रहता है, और शरीर की गंदगी बाहर निकल जाती है।

योगाभ्यास करें:- योग से अपना दिन शुरु करना शुभ होता है। आप प्राणायाम, अनुलोम-विलोम आदि कर सकते हैं। साइकलिंग, जॉगिंग आदि व्यायाम भी कारगर हैं।

ठीक से सोएँ:- सुस्ती और आलस से बचने के लिए शरीर को पूरा आराम देना चाहिए। आठ घंटों की नींद पूरी करके हम ऐसा कर सकते हैं।

नाक साफ़ रखें:- प्रदूषण बढ़ने के कारण सांस द्वारा बहुत से टॉक्सिन हमारे शरीर में पहुंच जाते हैं, जिससे हमे अनेक बीमारियाँ हो जाती हैं। इस समस्या से बचने के लिए अपनी नाक की नियमित सफ़ाई करें। साथ ही धूल, मिट्टी और प्रदूषण वाली जगहों पर मास्क या रुमाल का प्रयोग करें।

शरीर को स्वस्थ रखने के कुछ आसान उपाय

1. रेशेदार भोजन खाएँ। आहार में सब्ज़ियों और फलों को स्थान दें।

2. रोजाना व्यायाम जरुर करे|

3. निश्चित मात्रा में वाइटमिन सी का सेवन करना चाहिए।

4. जब भी खाना खाए चबा चबाकर और धीमे धीमे बिना बात किए खाना चाहिए।

5. सुबह सुबह गहरी सांस लें, जिससे खून में ऑक्सीजन पहुंचे और रक्त संचार सुधरे।

6. पूरे दिन में ऐसा काम जरुर करे जिससे आपके शरीर से पसीना निकले।

7. रोज़ 4 लीटर तरल पदार्थों का सेवन करना चाहिए।

हम उम्मीद करते है, कि आपने हमारे लिखी हुई पोस्ट पूरे ध्यान से और पूरी पढ़ी होगी, अगर नहीं पढ़ी हो तो एक बार पहले पोस्ट पढ़ें, और अगर फिर आपको कहीं लगे कि यह बात ऐसे नहीं ऐसे होनी चाहिए थी, या ये काम करके भी शरीर से अशुद्धियों को रोका या ख़तम किया जा सकता है, तो कृपया कमेंट के माध्यम से हमें बताएं धन्यवाद।


सुनील कुमार

Back to top