अपने चेहरे की दाढ़ी को बढ़ाने और घना करने के कुछ आसान तरीके


आयुर्वेद शब्द दो शब्दों से मिलकर बना है । आयुः जिसका अर्थ हे जीवन तथा वेद का अर्थात हे ज्ञान। इसलिए आयुर्वेद का अर्थ है, स्वस्थ जीवन जीने का ज्ञान । एलोपैथी औषधि केवल रोग का उपचार करती है. किंतु आयुर्वेद समग्र जीवनपद्धति है जो रोग तथा रोगी दोनों का पूर्ण उपचार करती है ।

आयुर्वेदिक उपचार के दो प्रमुख लक्ष्य निम्नलिखित हैं :

1. स्वस्थ लोगों के स्वास्थ्य को बनाए रखना
2. रोगियों के रोग को ठीक करना

तो आइये आज हम आपको आपके चेहरे पर आ रही दाढ़ी को बढ़ाने और घना करने का तरीका आयुर्वेदिक उपचार के जरिए बताने जा रहे है| जी हाँ कई एसे लोग है जिनकी उम्र तो हो गई होती है पर चेहरे पर दाढ़ी नहीं होती और अगर होती भी है तो बहुत हलकी और आजकल के समय में नवयुवको में हेयर स्टाइल और दाढ़ी के स्टाइल का एक नया चरण शुरु हो गया है| और एसे में आपकी दाढ़ी हलकी हो तो आपको थोडा बुरा तो जरुर लगेगा| अज हम आपको बताने जा रहे है आप अपनी दाढ़ी को और स्टाइलस/घना कैसे कर सकते है
वो भी कुछ आसान से तरीको से जो आपको आपके घर पर ही मिल जायेगी|

आइये जानते हे की आप अपनी दाढ़ी को और स्टाइलस/घना कैसे कर सकते है

आंवले का तेल से दाढ़ी बढ़ाने के तरीके

दाढ़ी बढ़ाने के लिए आंवले के तेल का सबसे उत्तम है। आंवले के तेल से रोज अपने चेहरे की 20 मिनट तक मसाज करें और फिर उसे ठंडे पानी से धो लें।

आंवले के तेल में सरसों की पत्तियां मिलाकर पेस्ट बनाकर दाढ़ी वाले हिस्से पर 20 मिनट के लिए लगाएं।

ऐसा सप्‍ताह में 3 या 4 बार करने से आप घनी दाढ़ी पा सकते हैं।

नारियल के तेल से दाढ़ी बढ़ाने के तरीके

करी पत्तों को नारियल के तेल में डालकर उबाल लें जब यह ठंडा हो जाए तो अपनी दाढ़ी की मालिश करें।

शेव करने से पहले हमेशा गुनगुने पानी में थोड़ा सा नारियल तेल डालकर चेहरे को अच्छी तरह धो लें।

दालचीनी और नींबू से दाढ़ी बढ़ाने के तरीके

दालचीनी के पाउडर में नींबू का रस मिलाकर उसकी पेस्ट बना लें।

इसे चेहरे पर 15 मिनट के लिए लगाएं और फिर ठंडे पानी से चेहरे को धोए और सूती कपड़े से चेहरे को पोंछे।

ध्यान रखें:

अगर आपकी त्वचा को नींबू से एलर्जी हो तो इसका प्रयोग ना करें। इससे आपकी त्वचा में जलन पैदा हो सकती है।

अन्यथा अच्छे परिणाम के लिए सप्ताह में दो बार इसका प्रयोग किया जा सकता है।

यूकेलिप्‍टस के तेल से दाढ़ी बढ़ाने के तरीके

मेंहदी के तेल की तरह चेहरे के बालों की बढ़त के लिए यूकेलिप्‍टस तेल भी बहुत उपयोगी होता है। हालांकि इस सीधे तौर पर चेहरे पर लगाने से खुजली की समस्या हो सकती है इसलिए इसे जैतून या तिल के तेल में मिलाकर लगाएं।

संतुलित भोजन करने से दाढ़ी बढ़ाने के तरीके

ज्यादा प्रोटीन वाले भोजन का सेवन, तनाव न लेना और ज्यादा सोना दाढ़ी को तेजी से बढ़ने में मदद कर सकता है।

प्रोटीन शरीर को ऐसे पौष्टिक तत्व उपलब्ध कराता है जो ज्यादा बालों को उगाता है और सोना इसलिए जरूरी है क्योंकि इसी समय पौष्टिक तत्व अपना काम करता है।

साथ ही दिन में 8 ग्लास पानी पीने से भी घने और स्वस्थ बालों के विकास में मदद मिलेगी।

बालों को झड़ने से रोकने के लिए जहां तक हो सके तनाव मुक्त रहने की कोशिश करें।

किस विटामिन से दाढ़ी जल्दी बढेगी

अपने आहार और ब्यूटी प्रोडक्ट में विटामिन बी को शामिल करें।

विटामिन बी1, बी6 और बी12 भी बालों को जल्दी बढ़ाने में मदद करता है।

साथ ही रोज बायोटीन का सेवन करें।

बालों को बढ़ने दें

शुरुआत में दाढ़ी के बाल अपूर्ण और खराब सी दिखेंगी।

जैसे ही बाल बड़े होंगे धीरे-धीरे बढ़ रहे फालिकल्स को खुद के बालों को विकसित करने का समय मिल जाएगा।

ऐसे में बालों के बीच दिखने वाला खाली स्थान अपने आप छिप जाएगा

इसलिए धैर्य रखें और अपनी दाढ़ी को बढऩे और विकसित होने दें


सुनील कुमार

Back to top