Current और Savings बैंक Account में क्या अंतर है


आज के समय में लगभग सभी लोगों के बैंक में Account होते है, चाहे वह कोई Student हो Senior Citizens हो या फिर Job करने वाले हो सभी का बैंक में Account होते है| पर क्या आपको पता है, Current और Savings Account में क्या अंतर होता है| हममेसे बहुत से लोग ऐसे हैं, जिनका bank में Account तो होता है पर उन्हें Current और Savings account में अंतर क्या है, नहीं जानते है, अगर आप भी उनमेसे है तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़े और जाने की Current और Savings बैंक Account में क्या अंतर होता है|

जब हम किसी भी बैंक में अपना Account खुलवाने जाते है, तो बैंक में हमे एक Form Fill करना पड़ता है उसमे एक Opcation होता है अपने Account Type को Select करना जिसमे एक होता है Current Account और एक Savings  Account होता है| या फिर आपका Account किसी भी Bank में खुला है और बैंक द्वारा दिए गए ATM Card से आप कभी किसी ATM से cash widraw करते है तो आपको सबसे पहला Opcation आता है| अपना Account चुनिए जिसमे से एक होता है Current Account और एक Savings  Account तो आपके मन में ये सवाल आता होगा की ये दूसरा Account Type क्या है|

Current Accounts क्या होता हैBank Account

Current Accounts / चालू खाता : यह इस तरह का Account होते है जिन पर बैंक आपको Interest भी नहीं देता है और ऐसे account केवल व्यापारिक उद्देश्य के लिए खोले जाते है, क्योंकि इन खातों पर लेन देन को लेकर कोई भी Limits नहीं होती है दिन में कितनी भी बार और कितनी भी राशी को लेन देन के लिए उपयोग किया जा सकता है यह account उन लोगो के लिए ज्यादा suitable होते है जो किसी फर्म या कंपनी के मालिक है | बैंक्स अलग अलग तरह की सुविधाओं के आधार पर current account के लिए charges भी लेते है जिसका भुगतान Account holder को करना पड़ता है|

Also Read Thsi: KYC का Form बैंक में कैसे भरे

चालू खाते की विशेषताएं

1. इन खातों पर बैंक द्वारा कोई भी ब्याज देय नहीं होता है|

2. हालाँकि इसके कुछ अपवाद भी है, क्योंकि बैंकिंग में बढ़ते प्रतिस्पर्धा को लेकर कुछ Banks ने अलग से चालू खाते प्रदान करने के अवसर ग्राहकों को लुभाने के लिए दिए है, उनमे कुछ ब्याज भी देते है|

3. Current account में दिन में किये जाने वाले transactions और amount को लेकर कोई लिमिट नहीं होती है|

4. Current account  में आपको चेक सुविधा मिलती है |

5. Current account में आप अपने खाते से balance से अधिक पैसे निकाल सकते हैं|

6. Current account ओपन करने के लिए saving account से अधिक amount की ज़रुरत पड़ती है|

7. Businessmen और Companies को current account की bank पासबुक issue नहीं करता है|

Saving Accounts क्या होता है

Saving account / बचत खाता सबसे अधिक पॉपुलर खाते का एक प्रकार है जो Personal Banking के लिए सबसे बेस्ट खाते का विकल्प है क्योंकि इसमें आपकी जमा राशी पर बैंक आपको करीब 4 % से 6 % की दर से ब्याज भी देता है| Airtel Payment Bank 7.5 % का ब्याज देता है| जो कि FD/RD से तो कम है| Saving account में आपको Minimum Balance रखना होता है इसकी दर हर बैंक में अलग – अलग हो सकती है| लेकिन इसमें आप जब चाहे अपनी राशी को जमा कर सकते है, और जब चाहे तब निकाल भी सकते है| Saving account में बैंक आपको Internet Banking, Check Book, Pass Book और ATM Card की सुविधा भी मुहिया करता है| Saving Account के साथ आपके लिए यह शर्त लागू होती है कि आप इसका इस्तेमाल व्यापारिक काम के लिए नहीं कर सकते है, इसी वजह से सभी bank इसके लिए Saving Account के अंदर किये जाने वाले लेन देन के लिए एक लिमिट का निर्धारण करते है, जिसमे आपके द्वारा एक निश्चित संख्या में खाते से withdrawal या जमा किया जा सकता है| सभी तरह के Bank account type में से यह खाते सर्वाधिक संख्या में है|

Also Read Thsi: Net Banking SBI बैंक में कैसे इस्तेमाल करें

Saving account / बचत खाता कोई भी व्यक्ति खुलवा सकता है| इस Account को Open करने के लिए जो Documents की जरूरत पड़ती है वो है

2 पासपोर्ट साईंज फोटो
Address proof में आप
(Aadhar Card, Ration Card, Voter ID Card, Phone Bill, Electric bill)
Proof of Identity में आप
(Aadhaar Card, Voter Card, Driving License etc)
⇒ Pan Card (यह अब सभी Banks में Compulsory हो गया है)

यह Documents आप अपने बैंक में जमा करवाकर आपना Saving Account खुलवा सकते है|

बचत खाते की विशेषताएं

1. जैसा कि हमें नाम से पता चल रहा है कि यह account आपके पैसे को save करता है यानी की बचत करता है|

2. Seving Account में आपको ढेर सारी सुविधाएँ मिलती है जैसे कि इन्टरनेट बैंकिंग , मोबाइल बैंकिंग और चेक बुक आदि भी आपको bank मुहिया कराता है|

3. Seving Account में आपको अच्छा खासा interest यानी की ब्याज भी मिलता है, ज़्यादातर bank 4 % से 6 % ब्याज देते हैं|

4. Seving Account में आपको दी जाने वाली इन्टरनेट बैंकिंग के जरिये आप तमाम लेन देन कर सकते है, जिसमे किसी को पैसे ट्रान्सफर करने से लेकर बिल का भुगतान, मोबाइल रिचार्ज, टिकेट बुकिंग और ऑनलाइन शौपिंग भी शामिल है|

Also Read This: भारत के 1 रुपए की कीमत इन देशो में क्या है जानकर हैरान रह जाएगे आप

5. Saving account में आपको minimum 1000 रुपये का balance रखना पड़ता है और अगर आपका account किसी private bank यानी ICICI , HDFC ,AXIS bank इनमे आपको 10000 रुँपये monthly  minimum रखने पड़ते है . अगर आप इससे कम balance रखते है तो bank पेनल्टी लगाता है |

6. इसमें आप monthly लिमिटेड transaction कर सकते हैं अगर आप फ्री transaction से ज़्यादा महीने में transaction करते है तो आपको extra charge देना होगा|

7. Saving account को आप indivisual और joint दोनों तरह से खुलवा सकते हैं|

8. सबसे महत्वपूर्ण बात अगर आप इन्टरनेट बैंकिंग इस्तेमाल करते है तो आपको केवल बैंक में कैश जमा करवाने के लिए जाना होता है| और कई बैंक तो Cash Pickup & Delivery Service भी मुहिया कराते है| नहीं तो आपको किसी भी तरह के लेन देन के लिए bank  में जाने की जरुरत नही है और न ही अपनी पासबुक में एंट्री करवाने की क्योंकि Internet Banking के जरिये आप अपने पीछे के सारे पुराने transactions देख सकते है|

जीरो बैलेंस Account

नो फ्रिल account यह सही है कि जीरो बैलेंस पर खोला जा सकता है लेकिन उसमे बहुत सी लिमिटस होती है जैसे कि आप 50000 से अधिक बैलेंस उस account में नहीं रख सकते है और लेन देन को लेकर भी बहुत सी सीमितताएँ होती है |

हम उम्मीद करते है, कि आप सभी ने हमारे लिखी हुई पोस्ट पूरे ध्यान से और पूरी पढ़ी होगी, अगर नहीं पढ़ी हो तो एक बार पहले पोस्ट पढ़ें, और अगर फिर आपको इसमें कहीं कोई बात लगे की हमने बताई नहीं है या गलत बताई है तो कृपया कमेंट के माध्यम से हमें बताएं धन्यवाद।


सुनील कुमार

Back to top